रणजी ट्रॉफ़ी को मिलेंगे अब दो विजेता, लड़कियों के लिए अंडर 16 टूर्नामेंट की शुरुआत


प्रथम श्रेणी प्रतियोगिता की गुणवत्ता में सुधार लाने के उद्देश्य से बीसीसीआई ने रणजी ट्रॉफ़ी को दो श्रेणियों में विभाजित करने का निर्णय लिया है: एलीट और प्लेट। यह टूर्नामेंट 13 दिसंबर 2022 से 20 फ़रवरी 2023 तक आयोजित किया जाएगा। पहले 38 टीमें एक ही ट्राफ़ी के लिए प्रतिस्पर्धा करती थी लेकिन अब इसे दो हिस्से में बांट दिया गया है। मतलब रणजी ट्रॉफ़ी के दो विजेता होंगे।

नॉकआउट मैचों में अक्सर देखा जाता है कि किसी मज़बूत टीम के सामने एक बहुत ही कमज़ोर टीम का मुक़ाबला पड़ जाता है। इसी को ख़त्म करने के लिए यह फ़ैसला लिया गया है।

नए प्रारूप के अनुसार 32 एलीट टीमों को चार समूहों में विभाजित किया जाएगा, जिसमें प्रत्येक समूह से शीर्ष दो क्वार्टर फ़ाइनल के लिए क्वालीफ़ाई करेंगे। इससे प्रत्येक टीम को लीग चरण में कम से कम सात मैच मिलेंगे।

दो प्लेट फ़ाइनलिस्ट को 2023-24 सीज़न के लिए एलीट समूह में पदोन्नत किया जाएगा, जबकि सभी चार एलीट समूहों की निचली दो टीमों को अगले सत्र में प्लेट ग्रुप में भेज दिया जाएगा।

दलीप ट्रॉफ़ी और ईरानी कप की वापसी

दलीप ट्रॉफ़ी को तीन सीज़न के अंतराल के बाद फिर से शुरू किया गया है और यह एक क्षेत्रीय प्रतियोगिता होने के अपने मूल प्रारूप में वापस आ जाएगी। इस बार उत्तर, दक्षिण, पूर्व, पश्चिम और मध्य के साथ-साथ उत्तर-पूर्व की एक नई टीम के जुड़ने से यह छह-टीम की नॉकआउट प्रतियोगिता बन जाएगी, जो 8 से 25 सितंबर तक चलेगी।
इसके बाद 2021-22 रणजी ट्रॉफ़ी चैंपियन मध्य प्रदेश और एक अक्टूबर को राष्ट्रीय चयनकर्ताओं द्वारा चुनी गई शेष भारत की टीम के बीच ईरानी कप मैच होगा। ईरानी कप आख़िरी बार 2018-19 में खेला गया था, जब विदर्भ ने शेष भारत को हराया था।

भारत की घरेलू टी20 प्रतियोगिता सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफ़ी 11 अक्टूबर से 5 नवंबर तक आयोजित की जाएगी, जो टी20 विश्व कप के साथ-साथ चलेगी। यह टूर्नामेंट कहीं ना कहीं आईपीएल की टीमों के लिए नई प्रतिभा तलाशने का मौक़ा देगा। इस टी20 मुक़ाबले के बाद 50 ओवर की विजय हज़ारे ट्रॉफ़ी की शुरुआत होगी।
रणजी ट्रॉफ़ी के विपरीत सफेद गेंद वाले टूर्नामेंट में एक अतिरिक्त प्लेट ग्रुप नहीं होगा। नई घरेलू टीमों को प्री-टूर्नामेंट सीडिंग के आधार पर पांच अलग-अलग समूहों में बांटा जाएगा।

महिला क्रिकेट को क्या मिला?

बर्मिंघम में 2022 राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीतने के बाद खेल के प्रति रुचि को देखते हुए, महिला टीम को भी काफ़ी कुछ मिला है। 2006 में बीसीसीआई ने महिला क्रिकेट की कमान संभालने के बाद पहली बार लड़कियों के लिए अंडर-16 टूर्नामेंट का आयोजन करेगा। यह नई प्रतिभाओं की पहचान करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, जिससे महिला अंडर -19 विश्व कप के लिए टीम तैयार किया जा सकता है।

पांच साल के बाद सीनियर्स के लिए टी20 और 50 ओवर दोनों प्रारूपों में महिलाओं की क्षेत्रीय प्रतियोगिता को फिर से शुरू करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है। इसके अलावा अंडर -23 के लिए एक टी 20 और 50 ओवर की प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी। ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अंडर -19 में अगर कोई खिलाड़ी टीम का हिस्सा नहीं बन पाता है तो उसे आगे भी राष्ट्रीय टीम से खेलने के लिए एक और मौक़ा मिले।

महिलाओं का घरेलू सीज़न कब शुरू होगा?

अगले साल फ़रवरी में साउथ अफ़्रीका में महिला टी20 विश्व कप होने वाला है। सीज़न की शुरुआत 11 अक्टूबर से 5 नवंबर तक सीनियर महिला टी20 ट्रॉफ़ी के साथ होगी। इसके बाद इंटर-ज़ोनल टी20 और एक चैलेंजर ट्रॉफ़ी होगी।

बीसीसीआई पहला महिला आईपीएल के लिए मार्च-अप्रैल के विंडो का उपयोग करने के लिए तैयार है, जिसकी योजना सौरव गांगुली के अनुसार चल रही है। बीसीसीआई शुरुआत में पांच या छह टीमों के टूर्नामेंट पर विचार कर रहा है और इस मामले पर सितंबर में होने वाली बीसीसीआई की आम बैठक में चर्चा की जाएगी।

शशांक किशोर ESPNcricinfo के सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।



Source link

Leave a Comment